Hindi

वर्णमाला (Varnmala) क्या है: परिभाषा, भेद और उदाहरण और कैसे करे कुछ उदाहरण के साथ

वर्णमाला भाषा की नियमित रूप से व्यवस्थित एक संगठित समूह है जिसमें वर्णों को क्रमबद्ध किया जाता है। इसे भारतीय भाषाओं में प्रमुखत: अक्षरमाला भी कहा जाता है। वर्णमाला के प्रमुख भेद होते हैं:

वर्णमाला के भेद

  1. स्वर (Vowels): स्वर वर्ण होते हैं जिनमें आवाज़ का उत्पादन मुख खोलकर होता है, और उन्हें अकेले भी उच्चारित किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ।
  2. व्यंजन (Consonants): व्यंजन वर्ण होते हैं जिनमें आवाज़ का उत्पादन मुख के विभिन्न भागों को मिलाकर किया जाता है। ये वर्ण एक स्वर के साथ या अकेले में नहीं उच्चारित किए जा सकते हैं। उदाहरण के लिए, क, ख, ग, घ, च, छ, ज, झ, ट, ठ, ड, ढ, त, थ, द, ध, प, फ, ब, भ, म, य, र, ल, व, श, ष, स, ह।
  1. स्वर: इनमें आ, ई, उ, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ, अं, अः आदि शामिल होते हैं।
  2. व्यंजन: इसमें क, ख, ग, घ, च, छ, ज, झ, ट, ठ, ड, ढ, त, थ, द, ध, प, फ, ब, भ, म, य, र, ल, व, श, ष, स, ह आदि अक्षर शामिल होते हैं।

उदाहरण के लिए, हिंदी भाषा में वर्णमाला के अनुसार कुछ शब्दों का उदाहरण निम्नलिखित है:

  1. स्वर: आम, ईमान, उत्तर, ऊँचाई, एक, ऐनक, ओम, और, अंगूर, अःकार।
  2. व्यंजन: कमल, खेल, गाना, घर, चाय, छड़ी, जान, झूला, टोपी, ठंड, डाक, ढक्कन, ताला, थाली, दाल, धारा, पंखा, फल, बादल, भाषा, मिलन, योग, रात, लकड़ी, वन, शिक्षा, षड़यंत्र, सपना, हाथि।

इन उदाहरणों में, वर्णमाला के स्वर और व्यंजनों का प्रयोग शब्दों को रचना करने के लिए किया गया है। यह वर्णमाला भाषा की मूल घटक होती है जो भाषा को समझने और उसे लिखने के लिए आवश्यक होती है।

Experts Ncert Solution

Experts of Ncert Solution give their best to serve better information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button