HindiQuestion

साइक्लोट्रोन (cyclotron) क्या है?

Cyclotron kya hai?

साइक्लोट्रोन एक प्रकार का कण त्वरक है जिसका उपयोग परमाणुओं के नाभिक के घटकों का अध्ययन करने के लिए किया जाता है। यह 1930 के दशक में अर्नेस्ट लॉरेंस द्वारा आविष्कार किया गया था। साइक्लोट्रोन एक बेलनाकार कक्ष से बना होता है जिसे डी आकार के इलेक्ट्रोड के बीच रखा जाता है। इलेक्ट्रोड को एक उच्च आवृत्ति वाले वैकल्पिक वोल्टेज पर रखा जाता है। चुंबकीय क्षेत्र कक्ष के लंबवत होता है।

जब आवेशित कणों को डी आकार के इलेक्ट्रोड के बीच में इंजेक्ट किया जाता है, तो वे विद्युत क्षेत्र द्वारा त्वरित होते हैं। वे तब चुंबकीय क्षेत्र द्वारा एक गोलाकार पथ में विक्षेपित होते हैं। कण इलेक्ट्रोड के बीच अंतराल को पार करते समय गति प्राप्त करते हैं, और वे प्रत्येक बार चुंबकीय क्षेत्र द्वारा एक बड़े वृत्त में विक्षेपित होते हैं। कण अंततः इतनी ऊर्जा प्राप्त कर लेते हैं कि वे डी आकार के इलेक्ट्रोड से बच जाते हैं।

साइक्लोट्रोन का उपयोग विभिन्न प्रकार के परमाणु कणों, जैसे प्रोटॉन, ड्यूटेरॉन और अल्फा कणों को त्वरित करने के लिए किया गया है। इन कणों का उपयोग तब नाभिकीय प्रतिक्रियाओं का अध्ययन करने के लिए किया जाता है। साइक्लोट्रोन का उपयोग चिकित्सा अनुप्रयोगों में भी किया गया है, जैसे कि कैंसर के उपचार के लिए ट्यूमर को विकिरणित करना।

Experts Ncert Solution

Experts of Ncert Solution give their best to serve better information.

Leave a Reply

Back to top button
WhatsApp API is now publicly available!